महिला प्रेग्नेंट कब होती है? जाने सही समय और रखें खास बातों का ध्यान

WhatsApp
Medically Reviewed by Dr. Aman Priya Khanna
Written by Rajath R Prabhu, last updated on 5 September 2023| min read
महिला प्रेग्नेंट कब होती है? जाने सही समय और रखें खास बातों का ध्यान

Quick Summary

    When Does a Girl Get Pregnant?

  • Getting pregnant is a beautiful and transformative experience that marks the beginning of a new chapter in a woman's life. However, the process of conception is not always straightforward, and there are many factors to consider when trying to conceive.
  • In this blog, we will explore the question of when does a girl get pregnant. We will discuss ovulation, the best time to conceive, how to increase your chances of getting pregnant, and what to do and not to do to maximize your fertility.
  • Whether you are actively trying to conceive or are simply curious about the science behind pregnancy, this blog will provide you with a comprehensive understanding of how women get pregnant.

गर्भवती होना एक सुंदर और परिवर्तनकारी अनुभव है जो एक महिला के जीवन में एक नए अध्याय की शुरुआत करता है। हालांकि, गर्भाधान की प्रक्रिया हमेशा सीधी नहीं होती है, और गर्भ धारण करने की कोशिश करते समय विचार करने के लिए कई कारक होते हैं। इस ब्लॉग में हम इस सवाल पर ध्यान देंगे कि लड़की कब गर्भवती होती है। 

आइए इस लेख के माध्यम से जानें कि लड़की गर्भवती कब होती है, ओव्यूलेशन की जानकारी, गर्भ धारण करने का सही समय, सही तरीका, और प्रजनन क्षमता (फर्टिलिटी) को अधिकतम करने के लिए क्या करें और क्या न करें। चाहे आप सक्रिय रूप से गर्भ धारण करने की कोशिश कर रहे हों या गर्भावस्था के पीछे के विज्ञान के बारे में उत्सुक हों, यह ब्लॉग आपको महिलाओं के गर्भवती होने की व्यापक समझ प्रदान करेगा।

Download our App today to plan your surgery seamlessly and stress-free!

Click here for Android and Click here for iPhone

गर्भवती होने में ओव्यूलेशन की भूमिका।

इससे पहले कि हम जानें कि कोई लड़की कब गर्भवती होती है, पहले हम गर्भवती होने में ओव्यूलेशन की भूमिका को समझें। एक महिला के मासिक धर्म चक्र में कुछ ऐसे दिन होते हैं, जब गर्भावस्था ज्यादा संभव है, उस अवधि को 'उपजाऊ खिड़की' (फर्टाइल विंडो) कहते हैं। हर महिला में 'फर्टाइल विंडो' अलग होती है क्योंकि यह अवधि मासिक धर्म चक्र की लंबाई पर निर्भर करती है, जो महिलाओं में अलग-अलग होती है।

'उपजाऊ खिड़की' वह दिन है जब अंडाशय (ओव्यूलेशन) से अंडा निकलता है। यह आपके मासिक धर्म चक्र के दौरान का समय होता है जब आपके गर्भवती होने की सबसे अधिक संभावना होती है। ज्यादातर लोगों के लिए, यह ओव्यूलेशन से पहले के पांच दिन, ओव्यूलेशन का दिन और ओव्यूलेशन के बाद का दिन होता है। इस दौरान सेक्स (संभोग) करने से गर्भधारण की संभावना सबसे अधिक होती है।

आइए जानते है कि ऐसा क्यों होता है? गर्भधारण की संभावना सबसे अधिक इसी वक़्त पर क्यों होती है? किस समय पर सेक्स करने से महिला गर्भवती होती है? 

ओव्यूलेशन के दौरान असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद एक महिला गर्भधारण कर सकती है क्योंकि कुछ शुक्राणु महिला के प्रजनन अंगों के अंदर लंबे समय तक जीवित रह सकते हैं। यही वजह है कि यदि आप गर्भ धारण करने की कोशिश कर रहे हैं, तो यही सेक्स करने का सबसे अच्छा समय है:

  1. ओव्यूलेशन से पहले के तीन से पाँच दिनों में क्योंकि शुक्राणु जीवित स्तिथि में होता है। 
  2. ओव्यूलेशन के समय या ओवुलेशन के 24 घंटे के भीतर क्योंकि आपका अंडा केवल 24 घंटे तक जीवित रहता है। 
  3. ध्यान रखिए ओव्यूलेशन के समय के जितना करीब हो सके सेक्स करने से गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है।

इसलिए अब ओव्यूलेशन की ठीक प्रकार से गड़ना करने से पहले जरूरत है मासिक धर्म चक्र को समझना,

आपका मासिक धर्म चक्र आपकी अवधि के पहले दिन से शुरू होता है और आपकी अगली अवधि के पहले दिन तक जारी रहता है।

आप ओव्यूलेशन (जब आपके अंडाशय से अंडा निकलता है) के समय सबसे उपजाऊ होती हैं, जो आमतौर पर आपकी अगली अवधि शुरू होने से 12 से 14 दिन पहले होती है। यह महीने का वह समय होता है जब आपके गर्भवती होने की सबसे अधिक संभावना होती है।
get the app
get the app

आपको कैसे पता चलेगा कि आप ओवुलेशन कब कर रहे हैं?

आप गणना कर सकते हैं कि आपकी अवधि कब शुरू होगी और एक ऑनलाइन अवधि कैलेंडर का उपयोग करके आपका चरम ओव्यूलेशन समय होगा।

अगर आप अपने मासिक धर्म चक्र की औसत लंबाई जानते हैं, तो आप ओव्यूलेशन के समय का पता लगा सकते हैं। मान के चलें कि आपकी अवधि शुरू होने से लगभग 14 दिन पहले ओव्यूलेशन होता है।

ओव्यूलेशन की गणना करने का तरीका

यदि आपका औसत मासिक धर्म चक्र 28 दिनों का है, तो आप 14 दिन के आसपास ओव्यूलेशन करती हैं। 

  1. यदि आपका औसत मासिक धर्म चक्र 35 दिनों का है, तो ओव्यूलेशन 21 दिन के आसपास होता है।
  2. डायरी के माध्यम से अपना मासिक धर्म कैलेंडर रखकर आप अपने चक्र की लंबाई निर्धारित कर सकती हैं।

ओव्यूलेशन के लक्षण क्या हैं? और यह एक महिला को गर्भवती होने में कैसे मदद करता है?

ओव्यूलेशन कैलेंडर से अलग कुछ संकेतों और लक्षणों के आधार पर महिला यह निर्धारित कर सकती है कि अभी ओव्यूलेशन का समय है, जैसे:

  1. योनि स्राव (सर्विकल म्यूकस) में परिवर्तन: ओव्यूलेशन से पहले आपका सर्विकल म्यूकस गाढ़ा, सफेद और सूखा होता है, लेकिन जैसे ही अंडाशय से एक अंडा बाहर निकलता है, यानि ओव्यूलेशन से ठीक पहले, आपका सर्वाइकल म्यूकस साफ और चिकना हो जाता है। यह स्थिरता ओव्यूलेशन होने पर शुक्राणु के तैर कर अंडे तक पहुचना आसान बनाती है। यदि आप गर्भवती होना चाहती हैं, तो इस प्रकार का डिस्चार्ज आपको बताता है कि यह सेक्स का सही समय है। 
  2. बेसल शरीर के तापमान में परिवर्तन: ओव्यूलेशन के दौरान आपके शरीर का तापमान (बेसल बॉडी टेम्परेचर (बी.बी.टी)] थोड़ा बढ़ जाता है। जब आप पूरी तरह से आराम पर होते हैं, उसी तापमान को बेसल तापमान कहते है। इसी से आप आसानी से अपने ओव्यूलेशन के समय का पता लगा सकते है। बेसल शरीर के तापमान को मापने के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए थर्मामीटर का उपयोग करके, बिस्तर से बाहर निकलने से पहले हर सुबह अपना तापमान लें। इससे आपको उन दिनों की पहचान करने में मदद कर सकती हैं, जब आपके गर्भवती होने की सबसे अधिक संभावना होती है।

प्रजनन क्षमता को अधिकतम करने के लिए क्या करें और क्या न करें।

सच तो यह है, आप गर्भवती हो सकती हैं चाहे आप कुछ करें या ना करें, परंतु कुछ नियमों का पालन करने से आपकी प्रजनन क्षमता बढ़ सकती है और गर्भ धान करने में मदद हो सकती है। आइए देखें नीचे दी गई सूचि मे प्रजनन क्षमता पर अच्छे और बुरे प्रभाव। 

करें

ना करे

ओव्यूलेशन के समय के करीब सेक्स करने से गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है। धूम्रपान ना करें, इससे गर्भवती होने में परेशानी बढ़ जाती है।
सामान्य वजन बनाए रखें, क्योंकि अधिक वजन और कम वजन महिलाओं में गर्भवती होने की आपकी क्षमता को प्रभावित कर सकता है।  शराब न पियें: अत्यधिक शराब के सेवन से प्रजनन क्षमता में कमी आ सकती है।
स्वस्थ पौष्टिक आहार लें जिसमे ज्यादा फल, सब्जियां, साबुत अनाज, उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ शामिल हो। इसके सिवा कैफीन और अत्यधिक प्रासेस्ट फूड  पर अंकुश लगाएं 
नट्स, एवोकाडो, ऑयली फिश और सीड्स सहित अनसैचुरेटेड 'गुड' फैट्स खाएं।  संतृप्त 'खराब' वसा वाले खाद्य पदार्थों से बचें, जैसे बिस्कुट, तले हुए खाद्य पदार्थ, पाई, पेस्ट्री और केक।

निष्कर्ष

ज्यादातर लोगों का सवाल रहता है महिला/लड़की गर्भवती कब होती है? ओव्यूलेशन के समय के करीब सेक्स करने से गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है और इसकी गड़ना करके सही समय पर सेक्स करके आप गर्भवती हो सकती है। 

अगर किसी वजह से आपको गर्भवती होने मे परेशानी हो रही है तो देर ना करें, आज ही आप Hexahealth पर प्रोफेशनल केयर टीम से संपर्क कर सकते हैं और अपनी तकलीफ से राहत पा सकते हैं। अगर आपको गर्भावस्था से संबंधित कोई संदेह है जैसे लड़की प्रेग्नेंट कब नहीं होती है, पीरियड के बाद प्रेग्नेंट होने का सही टाइम, ये प्रेग्नेंट कब होती है लड़की आदि जानने के लिए आप वेबसाइट Hexahealth पर जा सकते हैं। यदि आप गर्भवती नहीं होना चाहती हैं तो आपको यौन संबंध बनाते समय हमेशा गर्भनिरोधक का उपयोग करना चाहिए।

Download our App today to plan your surgery seamlessly and stress-free!

Click here for Android and Click here for iPhone

अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल

यौन संबंध के बाद जब एक महिला का ओव्यूलेशन के दिन निकाला हुआ अंडा और पुरुष के शुक्राणु मिलते हैं, तब वह गर्भधारण कर सकती है। यही कारण है कि अपने मासिक धर्म चक्र और ओवुलेशन विंडो पर नज़र रखने से आपको गर्भवती होने की संभावना बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

यौन संबंध के बाद एक महिला अपने ओव्यूलेशन के दिन और ओव्यूलेशन से पांच दिन पहले तक गर्भधारण कर सकती है। इसी समय को फरटाईल् विंडो कहते है।

यह आपके मासिक चक्र की अवधि/लंबाई पर निर्धारित किया जा सकता है, ओव्यूलेशन के समय पर महिला सबसे ज्यादा उपजाऊ होती हैं, जो आमतौर पर आपकी अगली अवधि शुरू होने से 12 से 14 दिन पहले होता है। 

गर्भवती न होने के कई कारण होते हैं। निम्नलिखित कारणों से लड़की गर्भवती नहीं हो सकती है:

  1. गर्भ धारण करने की आपकी क्षमता को प्रभावित करने वाली कुछ स्वास्थ्य स्थितियां।
  2. आप ओवुलेशन नहीं कर रहे हैं।
  3. अंडकोष, अंडाशय या फैलोपियन ट्यूब में रुकावट।
  4. कम शुक्राणुओं की संख्या या शुक्राणु गतिशीलता के साथ समस्याएं।
  5. गुणवत्ता वाले अंडों और गुणवत्ता वाले शुक्राणुओं की घटती मात्रा (आमतौर पर उम्र बढ़ने से संबंधित)।

एक महिला अपने ओव्यूलेशन के दिन और ओव्यूलेशन से पांच दिन पहले तक फरटाईल् विंडो में  यौन संबंध के बाद गर्भधारण कर सकती है। इसलिए, अपने मासिक धर्म चक्र और ओव्यूलेशन की अवधि पर नज़र रखना बहुत महत्वपूर्ण है।

एक महिला की फर्टाइल विंडो का मतलब है कि जब ओव्यूलेशन हुआ है और अगर ओव्यूलेशन से पांच दिन पहले सेक्स किया जाता है, तो महिला के गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए, अपने मासिक धर्म चक्र को ट्रैक करना और अपनी ओवुलेशन विंडो को जानने से आपको गर्भधारण की संभावना बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

गर्भ धारण करते समय महिला की फरटाईल् विंडो यानि उपजाऊ समय का विशेष रूप से ध्यान रखें क्योंकि इस समय पर सेक्स/यौन संबंध बनाने से महिला प्रेग्नेंट हो सकती है। यदि आप गर्भवती नहीं होना चाहती हैं तो आपको यौन संबंध बनाते समय हमेशा गर्भनिरोधक का उपयोग करना चाहिए।

Updated on : 5 September 2023

Disclaimer: यहाँ दी गई जानकारी केवल शैक्षणिक और सीखने के उद्देश्य से है। यह हर चिकित्सा स्थिति को कवर नहीं करती है और आपकी व्यक्तिगत स्थिति का विकल्प नहीं हो सकती है। यह जानकारी चिकित्सा सलाह नहीं है, किसी भी स्थिति का निदान करने के लिए नहीं है, और इसे किसी प्रमाणित चिकित्सा या स्वास्थ्य सेवा पेशेवर से बात करने का विकल्प नहीं माना जाना चाहिए।

समीक्षक

Dr. Aman Priya Khanna

Dr. Aman Priya Khanna

MBBS, DNB General Surgery, Fellowship in Minimal Access Surgery, FIAGES

12 Years Experience

Dr Aman Priya Khanna is a well-known General Surgeon, Proctologist and Bariatric Surgeon currently associated with HealthFort Clinic, Health First Multispecialty Clinic in Delhi. He has 12 years of experience in General Surgery and worke...View More

लेखक

Rajath R Prabhu

Rajath R Prabhu

MSc. Clinical Research I PG Diploma in Public Health Services Management

3 Years Experience

His work in medical content writing and proofreading is noteworthy. He has also contributed immensely to public health research and has authored four scientific manuscripts in international journals. He was assoc...View More

विशेषज्ञ डॉक्टर

Dr. K D Nayar

Obsteterics and Gynaecology

45+ Years

Experience

97%

Recommended

Dr. Sowjanya Aggarwal

Infertility and IVF, Obstetrics And Genecology

19+ Years

Experience

97%

Recommended

एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पताल

Akanksha IVF Centre, Janakpuri
JCI
NABH

Akanksha IVF Centre, Janakpuri

4.94/5( Ratings)
A - 3/7
BH Salvas Hospital
JCI
NABH

BH Salvas Hospital

4.89/5( Ratings)
Chandan Palace
get the app
get the app

Latest Health Articles

aiChatIcon